Tag lakhon hjaron jubano ke sath

लाखों हजारों जुबानों के साथ

लाखों हजारों जुबानों के साथ वर्णन ना कर पाऊँ तेरे प्रेम का मेरे प्रभु, यीशु मसीह कर लो कबूल ये आराधना याद करूँ जब घायल बदन को कोड़ो की मार और काँटे जख्म को तब आये होठों पे गीत ये…